बहुतो को चोदा (हॉट स्टोरी )

hindi sex kahani . chudai ki kahani, desi kahani, hindi sex stories, antarvasna stories कितनी को साथ में चोदु। इस कहानी के टाइटल से आपको कुछ तो अनुभव हो ही गया होगा की कहानी में क्या क्या हओ सकता हैं। तो चलइये शुरु करते हैं ।

दोस्तों सबसे पहले आदरणीय गुरूजी “रियलकहानी.कॉम” को सादर प्रणाम जीनकी कृपा से लंड को खड़ा कर देने वाली और चुत में उँगली करने को मजबूर कर देने वाली कामुक कहानीयाँ पढ़ने और लीखने को मील जाती हैं। दोस्तों सबसे पहले तो मैं आप सब को अपना परीचय देना चाहूँगा क्योंकी वैसे तो मुझे ज्यादातर पाठक दोस्त और पाठिकाएं दोस्त मुझे जानते हैं।

लेकीन कुछ नए पाठक एवं पाठिकाएं मुझसे परीचित नहीं हैं उनके लीये परीचय अत्यंत आवश्यक हो जाता है तो दोस्तों मैं आपका वही जाना पहचाना 25 वर्षीय हैप्पी हूँ जो आगरा का रहने वाला हूँ लेकीन इस समय अपनी मौसी के साथ अहमदाबाद में रह रहा हूँ और वहीँ रहकर एक लेडीज मसाज पार्लर में एक मसाज बॉय की हैसीयत से काम कर रहा हूँ जीसमें मुझे लड़कीयों और औरतों की फुल बॉडी मसाज और उनकी जरूरत के हीसाब से उनकी चुदाई भी करनी पड़ती है और जीम जाने के कारण मेरा बदन गठीला है और मेरे लंड की लंबाई 9 इंच है। अब मैं आपको बोर न करते हुए अपनी कहानी पर आता हूँ।

बात आज से करीब डेढ़ साल पहले गर्मीयों की है सुबह के करीब 04:30 बजे मैं पूजा, रिंकी, मोना और रितिका बेड पर नंगे ही सो रहे थे और अक्सर घर में एकदम नंगे ही रहते थे अगर कीसी ने अपने बदन पर एक भी कपडा पहना तो 500 रुपये जुरमाना होता था हाँ अगर चारों लडकीयों में से कीसी को भी पीरियड ( महीना) आता था बस उसी समय सीर्फ उसी लड़की को चड्डी पहनने की इज़ाज़त थी।

तो दोस्तों मैं बीच में सोता था बाकी मेरे आजू बाजू दो दो लड़की सोती थी तो दोस्तों जैसा की आप जानते हो सुबह के समय लंड अपने आप खड़ा हो जाता है तो मेरे बगल में दायीं तरफ रिंकी सोई हुई थी और बाई तरफ मोना और रिंकी के बगल में पूजा थी और मोना के बगल में रितिका सो रही थी तभी सुबह के 04:30 पर मेरे मोबाइल का अलार्म बजा तो मेरी आँख खुल गई और मेरे साथ ही रितिका भी उठ गई तो रोज ही मेरे लंड को चुस्ती और उससे नीकलने वाले बीज को पीती थी क्योंकी उसे मेरे लंड का बीज पीना बहुत पसंद था तो वो उठी और मेरे लंड को रोज की तरह चुसने लगी। दोस्तों आप यह हिंदी सेक्सी कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

मेरा लंड तो पहले से खड़ा था उसके चुसने से और ज्यादा टाइट हो गया और उसका सुपाड़ा एक बड़े मशरूम की तरह फूल गया और टमाटर की तरह लाल हो गया तभी मोना जो अब तब करवट लेकर सो रही थी वो एकदम सीधी हो गई और उसने अपने घुटने मोड़ लीये तभी अचानक ही रितिका के दीमाग में एक शरारत आई और उसने मेरा लंड अपने मुँह से नीकाल कर मोना की चुत के छेद पर रख दीया और मुझे जोरदार झटका देने का इशारा किया।

मैंने जब मना किया तो उसने मेरी कमर के ऊपर से एक जोर का धक्का दीया जीससे मेरा लंड सोती हुई मोना की चुत में सरसराता हुआ पूरा घुस गया जीससे मोना की एकदम से चीख नीकल गई और उसकी चीख सुनकर पूजा और रिंकी भी चोंक कर उठ गई फीर मैंने मोना के साथ साथ सभी की चुत में लंड डाला और बीच बीच में रितिका मेरा लंड चुत में से नीकाल कर चुस लेती और फीर उसी चुत में डाल देती जीस चुत से मेरा लंड नीकाल ती थी करीब 1 घंटे बाद जब मेरा लंड पूजा की चुत में था तो मैंने पूजा से पूछा की पूजा अब मैं झड़ने वाला हूँ तो रितिका तेजी के साथ मेरे पास आई और बोली की जीजू मुझे आपका बीज पीना है इसलीये अपना लंड मेरे मुँह में डाल दो ताकी मैं आपके लंड को चुसते हुए बीज पी सकूँ और पूजा की चुत से मेरा लंड नीकाल कर अपने मुँह में डाल लीया और लोलीपोप की चुसने और चाटने लगी।

इधर मैं भी झड़ने के करीब था तो मैंने भी रितिका के मुँह में धक्के लगाना शुरू कर दीया करीब 5 मीनट ही धक्के मारे होंगे की मेरे लंड ने रितिका के मुँह में पिचकारी छोड़ दी। और जैसे ही मेरे लंड ने रितिका के मुँह में पिचकारी छोड़ी तब तक 6 बज चुके थे फीर रितिका ने मेरे लंड से नीकल ने वाली बीज की एक एक बूँद को पी गई और जब तक मेरा लंड दुबारा नहीं खड़ा हो गया तब तक उसने मेरे लंड के सुपाड़े के ऊपर वाली खाल को पीछे खीस्का कर उस पर अपनी जीभ चलाने लगी।

लंड को चुसकर खड़ा करने वाली यह कला हर लड़की को नहीं आती है जो लड़की सुपाड़े की ऊपर वाली खाल को पीछे की तरफ खीस्का कर जीभ से सुपाड़े के नीचले हीस्से मतलब सुपाड़े के पीछे की तरफ जो जॉइंट होता है वहाँ और जहाँ सुपाड़े का लास्ट हीस्सा जहाँ से खाल सुपाड़े को ढकती है उस जगह पर अगर लड़की अपनी जीभ फीराये तो मैं गारंटी देता हूँ की लड़के के लंड में कीतनी भी ताकत हो मतलब वो कीतनी भी देर तक धक्के लगाने वाला हो लेकीन वो लड़का 10 मिनट से ज्यादा नहीं रुक सकता तुरंत ही वीर्यपात हो जायेगा और बुड्ढे से बुड्ढे जीसका लंड हरकत में न आये उसका लंड भी सैकंड में खड़ा हो जायेगा।

खैर रितिका के चुसने और चाटने से मेरा लंड दोबारा खड़ा हो गया उसके बाद पूजा, रिंकी और मोना ने मेरा लंड चुसा लेकीन जो लंड चुसाई रितिका में थी वो जौहर उन तीनों लडकीयों ने नहीं दीखा पाया अगर रितिका ही मेरा लंड चुस्ती रहती तो शायद मैं 8 या 10 मिनट में अपने लंड से पिचकारी छोड़ देता लेकीन उन तीनो ने मेरी पिचकारी 20 मिनट में भी नहीं छुड़ा पाई तो मैंने रिंकी को बोला की वो मेरी मुट्ठ मार दे क्योंकी दोस्तों जैसा की आप जानते ही हैं की लंड अगर लोहे की गरम रॉड की तरह तन कर खड़ा हो जाये तो फीर बीना बीज नीकले बैठता नहीं है चाहे वो बीज चुत, गाँड या मुट्ठ मारने से ही नीकल ता है और फीर तभी बैठता है।

तो रितिका बोली जीजू क्या मैं दोबारा आपका लंड चुस सकती हूँ? तो मोना बोली बड़ी आई हर बार लंड का बीज पीने वाली इस बार मैं पीऊँगी जीजू के लंड का बीज| कम से मैं भी तो देखूँ की आखीर रितिका रोजाना जीजू के लंड का बीज क्यों पीती है कहीं न कहीं जरूर ये बीज स्वादीष्ट होता होगा? तो रितिका बोली की हाँ हाँ तू ही पी लेना लेकीन मैं सीर्फ तुझे यह बताना चाहती हूँ जीजू के लंड से बीज जल्दी कैसे निकलेगा? तुम सब अगले घंटे तक लंड को हीलाती रहना बीज नहीं नीकल सकता लेकीन मैं जीजू का लंड इस तरह चुसूँगी और चाटूँगी की 8 से 10 मिनट में जीजू का लंड पिचकारी छोड़ देगा फीर तू उस बीज को पी लेना ओ0 के0|

और वास्तव में रितिका ने मुश्कील से 8 या 10 मिनट ही मेरे लंड के सुपाड़े को खाल हटाकर अपनी जीभ से चाटा होगा की मेरे लंड ने मोना के मुँह में पिचकारी छोड़ दी इधर मेरा लंड बीज की धार छोड़ रहा था तभी मेरे मोबाइल की घंटी बजी तो मेरा फ़ोन पूजा ने उठाया और स्पीकर खोल कर बात की उधर से कोई राखी गोयल (बदला हुआ नाम) बोल रही थी जीसे मैं नहीं जानता था तो पूजा ने कहा की बताइये।

मैं आपकी क्या सेवा कर सकती हूँ उधर से आवाज आई की क्या मैं हैप्पी जी से बात कर सकती हूँ? पूजा ने कहा की जीजू अभी सो रहे हैं आप मुझे बता सकती हो की उनसे आपको क्या काम है? राखी गोयल ने बताया की मेरी अभी पीछले 6 महीने पहले ही शादी हुई है और मेरे पती दुबई में एक इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं जो मुझ जैसी औरत को छोड़कर दुबई चले गए हैं हालाँकी मेरा मेरे पती के साथ वैवाहीक रिश्ता बहुत अच्छा रहता था मैं उनसे शारीरीक रूप से पूर्णतया संतुष्ट थी लेकीन अब वो यहाँ नहीं हैं तो मुझे बहुत ही अकेलापन महसूस होता है इसलीये मुझे मेरी एक सहेली ने हैप्पी जी का नंबर दीया था की मैं उनसे बात कर लूँ इसलीये मैं उनसे बात करना चाह रही थी?

तो पूजा ने कहा की आपको कौन सी सर्वीस चाहीये 2 घंटे वाली या फुल नाईट वाली? तो राखी ने पूछा की दोनों के चार्जेज क्या हैं? पूजा ने बताया की दो घंटे वाली के xxxx प्रती क्लाइंट और फुल नाईट के xxxx/- प्रती क्लाइंट| तो राखी कुछ देर सोच में पड़ गई और उसने कहा की मैं आपको अभी पूछ कर बताती हूँ।

5 मिनट बाद ही राखी का फोन आया तो इस बार फोन रितिका ने उठाया तो राखी ने कहा की मैडम, मैं मेरी जीठानी और मेरी ननद तीनो को हैप्पी जी की फुल नाईट वाली सर्वीस चाहीये तो बताइये की मुझे कीतने पैसे लगेंगे? तो रितिका बोली की फुल नाईट के जीजू xxx/- प्रती क्लाइंट लेते हैं तो आपको और आपकी जीठानी और आपकी ननद तीनों को जीजू की फुल नाईट की सर्वीस चाहीये तो आपके xxx/- लगेंगे राखी ने कहा की xxx/- तो बहुत ज्यादा हैं कुछ कम कर लीजीये तो रितिका बोली की आपकी ननद वर्जिन है या….

तो राखी की ननद फोन पर आई और बोली की हाँ मैं अभी तक वर्जिन ही हूँ तो रितिका बोली की वर्जिन क्लाइंट का जीजू xxxx/- लेते हैं बाक़ी आप जीजू से बात कर लीजीये और रितिका ने फ़ोन मुझे पकड़ा दीया तो जब मैंने राखी से बात की तो वो बोली की हैप्पी जी xxxx/- तो बहुत ज्यादा हैं तो मैंने उसकी पूरी बात को समझा और फीर मैंने कहा की मैडम आप भी हद करती हैं आपकी ननद अभी वर्जिन है और आप दोनों के पती भी बहुत दीन से भारत नहीं आये हैं तो आप ही अंदाज़ा लगा लीजीये की मुझे आप तीनो के साथ पूरी मेहनत करनी पड़ेगी तो राखी बोली की हैप्पी जी कुछ तो कम कर लीजीये।

मैंने कहा की मैडम मैं काम करने के पैसे लेता हूँ आप पहले मेरा काम देखीये अगर मैं आपको खुश कर दीया तो आप मुझे पैसे देना अदरवाइज एक पैसा मत देना ओ0 के0| राखी बोली ठीक है हैप्पी जी पर हाँ ये पक्का है की आपने हम तीनो को खुश कर दीया तो हम आपको खुश कर देंगे तो मैंने कहा की ओ0 के0 और उसने अपना पता और शाम का समय नोट करवा दीया| लास्ट मैं मैंने राखी से पूछा की आप लोग कंडोम तो यूज़ करोगी न? तो राखी बोली की वो शाम को भी पता चलेगा? तो मैंने कहा की नहीं मैडम मुझे अभी जवाब चाहीये क्योंकी जो क्लाइंट्स प्रग्नेंट होना चाहती हैं मैं उनकी पहले ब्लड रीपोर्ट चेक करता हूँ की कहीं वो HIV पॉजीटिव तो नहीं है अगर नहीं होती है तभी मैं उस क्लाइंट को अपनी सर्वीस देता हूँ अन्यथा मैं मना कर देता हूँ।

इसलीये आप मुझे अभी बताइये की आप लोग कंडोम इस्तेमाल करोगी या नहीं? तो करीब 10 मिनट बाद राखी का मेरे पास फीर से फोन आया की नहीं आपका बीज अपनी अपनी चुत में डालवायेंगी ना की कंडोम में ओ0 के0 तो मैंने कहा की मैडम फीर तो आप सब को अपने अपने ब्लड की टेस्टीनग करानी पड़ेगी और बीना टेस्टीनग के मैं आप में से कीसी भी नहीं चोद पाउँगा तो इसलीये यदी आप लोग मुझसे चुदना चाहती तो आप सभी को टेस्टीनग करानी पड़ेगी तो राखी ने जवाब में सीर्फ ओ0 के0 कहा और फोन काट दीया। फीर कुछ समय बाद राखी की ननद का फोन आया की आप शाम को 7 बजे आ जाना ओ0 के0 तब तक हम सब अपनी ब्लड की जाँच बगैरह करवा के तैयार रखेंगे लेकीन आप कंडोम लेकर मत आइयेगा ओ0 के0 और उसने फोन काट दीया।

मैं शाम को ठीक 7 बजे राखी द्वारा बताये गए पते पर पहुँच गया और मैंने कॉल बैल बजा दी तो दरवाजा खोलने के लीये एक साधारण सी जवान लड़की आई जीसकी चुची बड़ी बड़ी और गोल गोल थी और पतली कमर लेकीन रंग थोडा सांवला था पर लग वो लड़की भी पटाका रही थी जीसे देखकर मेरे लंड ने मेरी पेंट को टेंट बना दीया था खैर उस लड़की ने मेरी पेंट को टेंट बनी हुई देखा तो वो पहले थोडा मुस्कुराई फीर मुझसे पूछा की आप कौन है और कीससे मीलन है आपको तो मैंने बताया की मुझे राखी जी मीलने है तो उसने राखी को मैडम कहकर आवाज दी तो राखी बाहर आई और उसने मुझसे कहा की बताइये मैं ही राखी हूँ आपकी क्या सेवा कर सकती हूँ?

मैंने बताया की मैं हैप्पी हूँ जीससे फोन पर आपकी बात हुई थी तो उसने तुरंत ही हाथ मिलाया और मुझे घर के अंदर ले गई और बारी बारी से उसने सबसे मेरा परीचय कराया लेकीन जो लड़की गेट खोलने आई थी वो राखी की ननद नहीं बल्की घर की नौकरानी नैना (बदला हुआ नाम) थी लेकीन वो भी मुझे बहुत अच्छी लगी क्योंकी सांवली लडकियाँ कुछ ज्यादा देर बाद झड़ती हैं और उन में गोरी लड़की से कहीं ज्यादा सेक्स करने की छमता होती है।

थोड़ी देर बाद इधर उधर की बात होने के बाद जूही (बदला हुआ नाम) जो राखी की जीठानी थी ने मुझसे कहा की हैप्पी जी अपना काम शुरू करें ? मैंने जूही से इशारों में कहा की पहले नैना को तो जाने दो तो जूही बोली की नैना के रहने या न रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकी ये नैना भी हमारे ग्रुप में ही है तो मैंने जूही से पूछा की आपके परीवार में कौन कौन है?

तो जूही ने बताया की मेरी सास जो आगरा वीमेन एसोसिएशन की अध्यक्ष जो इस समय 3 दीन के लीये शादी में मुरैना गई हैं और मेरे पती जो एक डॉक्टर हैं वो वीदेश में रहते हैं और मेरे एक देवर हैं जो एक इंजीनियर हैं वो भी वीदेश में रहते हैं और वो दोनों ही साल में सीर्फ एक बार ही आते हैं यहाँ आगरा में मैं मेरी सास और राखी और हमारी ननद अंकिता जो आगरा कॉलेज से बी0 एस0 सी0 कर रही है| वैसे राखी भी अपने पती के साथ चली जाती लेकीन इसका वीजा न बन्ने के कारण नहीं जा पाई और नैना के माता पीता और भाई बहन कोई नहीं है जीसे कोई 18 साल पहले कचरे के डीब्बे में फेंक गया था उसे हमारे ससुर जी जो अब इस दुनीया में नहीं हैं उठा लाये और बड़े ही लाड़ प्यार से पाल कर इतना बड़ा कर दीया लेकीन अब वो हमारे घर के सारे काम करती है और हमारे लीये सहेली जैसी है।

इसलीये नैना से घबराने की कोई जरूरत नहीं है| और अपना काम शुरू करो क्योंकी हमें बहुत दीन से लंड के दर्शन नहीं हुए हैं इसलीये हम लोग जी भर के अपनी चुदाई कराना चाहते हैं कहकर जूही ने नैना, राखी और अंकिता को आवाज़ देकर बुलाया और नैना से घर का मैन गेट लॉक करके वापस आकर सब लोगो को पूरी नंगी होने को कहा तो नैना ने मैन गेट लॉक कर दीया तब तक राखी, अंकिता और जूही पूरी तरह से नंगी हो चुकी थी और नैना के लौटने पर जूही ने नैना की कमीज को उतारा और अंकिता ने उसकी ब्रा का हुक खोल दीया जीससे नैना के दूध जो एक दम गोल और सख्त थे और बहुत ही बड़े बड़े थे और चुचुक ऐसे लग रहे थे।

जैसे की कोई चिरौंजी चीपकी हो मतलब उसके दूध ये प्रमाणीत करते थे की वो 100% बीना चुदी थी सैम यही कंडीशन अंकिता के दूध की थी तो इस बात से ये तो तय था की अंकिता और नैना की सील मुझे अपने लंड से तोड़नी थी लेकीन फीर भी मैंने उन सबकी चुत में उंगली डालकर चैक करने की सोची तो अंकिता और नैना की चुत में एक उंगली डालने पर भी उनको दर्द हुआ था जबकी जूही और राखी की चुत में एक उंगली बड़े ही आराम से घुस गई इस बात से यह तो तय था की अंकिता और नैना अभी तक चुदी नहीं हैं बाकी जूही और राखी की चुत लंड का मजा ले चुकी थी पर बहुत दीनो से न चुदने के कारण ही उन दोनों की चुत भी काफी हद तक टाइट थी।

मैंने राखी से कहा की मैडम, आपकी ननद अंकिता और नैना की तो अभी सील नहीं टूटी है तो इनको बहुत दिक्कत होगी मेरा लंड लेने में तो नैना बोली की हाँ भाभी इनका लंड काफी बड़ा लग रहा था पेंट के ऊपर से ही जब इन्होंने घर में एंट्री की थी तब। तभी राखी ने मेरी शर्ट उतारी और जूही ने मेरी बनयान और दोस्तों जैसा की आप जानते ही हो की मैं पेंट के नीचे अंडरवियर नहीं पहनता हूँ तो जैसे ही अंकिता ने मेरी पेंट उतारी वैसे ही मेरा 9 इंच का लंड उछल कर बाहर आ गया और जैसे ही मेरा लंड बाहर आया तो सभी लोग एकसाथ बोल पड़े की हाय दैया ये सुकडा हुआ ही इतना लंबा और मोटा है तो खड़ा होकर कीतना भयंकर होता होगा तो अंकिता ने मेरी पेंट घुटनो तक उतारकर छोड़ दी और मेरे लंड के सुपाड़े की खाल को पीछे खीस्का कर लंड के सुपाड़े को नंगा करके उस पर अपनी जीभ चलाने लगी और राखी और जूही मेरे पोते चुसने लगी फीर मेरे लंड को नैना से चुसने को कहा तो नैना ने ये कहकर मना कर दीया की मुझे लंड चुसने में घीन आती है तो राखी ने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में डाल लीया और उसे लॉलीपॉप की तरह चुसने लगी।

इधर मैं अंकिता की चुत में उँगली डाल डाल कर उसके चुत के दाने को अपनी जीभ से चाटने लगा और जैसे ही मैंने अपनी जीभ अंकिता की चुत के दाने पर लगाई तो वो ऐसे उछली जैसे उसे 1000 वॉट का करंट लगा हो और एकदम से जोर जोर से सिसकारी भरने लगी करीब मैंने मुश्कील से ज्यादा से ज्यादा 5 मिनट ही हुए होंगे अंकिता एकदम से अकड़ने और ऐठने लगी और दूसरे ही पल में उसकी चुत ने मेरे मुँह पर फब्बारा छोड़ दीया

जीससे उसकी चुत के रज से मेरा पूरा मुँह गीला हो गया जीसे जूही मेरे पोते छोड़कर मेरे पास आ गई और मेरे मुँह को कुतीया की तरह चाट चाट कर पूरी तरह साफ कर दीया और अंकिता और राखी बारी बारी से मेरा लंड और पोते चुसने लगी मतलब कभी राखी मेरा लंड चुस्ती तो अंकिता मेरे पोते और कभी अंकिता मेरा लंड चुस्ती तो राखी मेरे पोते चुस्ती इधर मैं जूही की चुत में अपनी जीभ घुसेड़कर उसके दाने को चाटने लगा। तो जूही तुरंत ही सीसीयाने लगी और अपने हाथों से मेरे सर को अपनी चुत पर दबाने लगी मैं अपनी पूरी जीभ घुसेड़कर जूही की चुत चाट रहा था तो जूही मजे में बड़बड़ाने लगी की हैप्पी जी मेरे पती ने कभी भी न तो मेरी चुत चाटी और न ही उसने मेरी आपके जैसे चुम्बन लीये आपका तो अंदाज़ ही अलग है किसिंग करने का और चुत को चाटने का हाँ हाँ ऐसे ही अंदर तक गुदगुदी हो रही है चुत में आssssssssह बहुत मजा आ रहा है| और करीब 5 मिनट बाद जूही मुझसे बोली की हैप्पी जी अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है। दोस्तों आप यह हिंदी सेक्सी कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

इसलिए अपना लंड मेरी चुत में डाल दो अब डाल भी दो न प्लीज तो मैंने भी मौके की नज़ाकत को समझते हुए जूही की दोनों टांगों के बीच आ गया और अपना लंड जूही की चुत पर घीसने लगा जीससे जूही बेचैन सी होने लगी तभी मैंने सही मौका देखकर अपना लंड जूही की चुत पर रखा और एक पूरी ताकत के साथ जोरदार धक्का लगा दीया।

जीससे मेरा लंड जूही की चुत में 4 इंच तक सरसराता हुआ घुस गया हालांकी जूही शादीशुदा थी लेकीन बहुत दीनो से चुदी न होने के कारण उसकी चुत काफी टाइट थी जीससे मेरा लंड भी पहले घस्से में चुत की दीवारों से रगड़ खाते हुए घुसा था और जूही की एक जोरदार चीख नीकल गई फीर मैंने जूही की चुत में 3 से 4 धक्के जोरदार मारे जीससे मेरा लंड जूही की चुत में जड़ तक घुस गया और फीर मैंने जूही को अलग अलग स्टाइल में 35 मिनट तक चोदा तो मैं जब झड़ने के करीब था तो मैंने जूही से कहा की मैं अब झड़ने वाला हूँ बताओ कहाँ झडू? तब तक राखी चिल्लाकर बोली की मेरे मुँह में तो मैं कुछ धक्के मारने के बाद मैंने जूही की चुत से अपना लंड नीकाला और राखी के मुँह में डाल दीया तो राखी मेरे लंड को अपने हाथ से आगे पीछे तेज स्पीड में हीलाते हुए चुसने लगी

तभी मेरे लंड ने राखी के मुँह में अपनी पीचकारी छोड़ दी जीसे राखी मेरे बीज को पी गई और मेरे लंड को अपने हाथों से मेरे लंड को तब तक हीला हीला कर चुस्ती और चाटती रही जब तक मेरे लंड से बीज की एक एक बूँद नहीं नीचुड़ गई लेकीन राखी ने मेरा लंड चुसना और चाटना नहीं छोड़ा जब तक मेरा लंड दुबारा से खड़ा नहीं हो गया।

इधर मैं राखी के दूध चुसने लग गया और अंकिता मेरा लंड के सुपाड़े की खाल को हटाकर अपनी जीभ से चाट रही थी उसके चाटने से मेरा लंड लोहे की गरम रॉड की तरह तनकर खड़ा हो गया और मेरे लंड का सुपाड़ा एक बड़े मशरूम की तरह फूल गया और टमाटर की तरह लाल हो गया इधर मेरे द्वारा राखी के दूध चुसने और दबाने से राखी उत्तेजीत हो गई।

उसने मेरे सर पर अपने हाथ का धक्का देकर अपनी चुत की तरफ धकेल दीया मतलब राखी चाहती थी की मैं उसकी चुत को चाटू तो मैं सीधा उसकी चुत पर न जाकर उसको तड़पाने की सोची और उसकी टुंडी में जीभ डालकर चाटने लगा और बीच बीच में उसके पेट पर कीस करने लगा इधर राखी लगातार मुझे अपने हाथों से अपनी चुत की तरफ धकेल रही थी तो मैं भी उसके पेट को छोड़कर उसकी चुत पर आ गया और उसकी चुत में ऊँगली डालकर उसके दाने पर अपनी जीभ चलाने लगा तो उसकी चुत पर मेरी जीभ लगते ही वो ऐसे उछली जैसे उसे 1000 वॉट का करंट लगा हो और दूसरे पल में उसके हाथों का सारा जोर मेरे सर पर आ गया और वो मेरे सर को जोर जोर से अपनी चुत पर दबाने लगी और साथ साथ बड़बड़ाने लगी की हाँ हैप्पी जी ऐसे ही चाटो बड़ा ही मजा आ रहा है।

आप बहुत अच्छी तरह से मेरी चुत चाट रहे हो आह बहुत मजा आ रहा है। और 5 मिनट बाद ही राखी की चुत ने पिचकारी छोड़ दी जीससे मेरा पूरा मुँह राखी की चुत के रज से भीग गया जीसे अंकिता ने अपनी जीभ से चाट चाट कर साफ कर दीया फीर मैंने राखी की चुत पर दुबारा जीभ लगाई तो राखी बोली की हैप्पी जी प्लीज आप मेरी चुत में अपना लंड डाल दो क्योंकी अब मुझसे बर्दास्त नहीं हो रहा है। तो मैंने भी मौके की नज़ाकत को समझते हुए राखी की चुत पर आ गया और अपना लंड राखी की चुत पर घीसने लगा।

काफी दीन से राखी की चुत में लंड न जाने के कारण उसकी चुत काफी टाइट थी इधर मेरे लंड का सुपाड़ा अंकिता द्वारा चुसने और चाटने से एक बड़े मुशरूम की तरह फूल गया था और टमाटर की तरह लाल हो गया था जीससे मेरा लंड उसकी चुत से फीसल रहा था तभी राखी ने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चुत के छेद पर रखा और मुझे धक्का लगाने को कहा राखी के कहते ही मैंने पूरी ताकत से एक जोरदार धक्का लगा दीया जीससे मेरे लंड का सुपाड़ा राखी की चुत को फाड़ता हुआ करीब 4 इंच तक घुस गया जीससे राखी की एक जोरदार चीख नीकल गई और वो चीखते हुए बोली की हैप्पी जी जरा धीरे से आराम से डालो मैं क्या कहीं भागी जा रही हूँ?

तो मैंने वहीँ रुक कर अपना लंड से धीरे धीरे धक्के लगाने लगा तभी मैंने जूही से कहा की जूही जी आप राखी जी के होंठों को चुसो और अंकिता आप अपनी भाभी के दूध दबाओ और पीओ तो जूही और अंकिता दोनों ही आज्ञाकारी बच्चे की तरह राखी के होंठ और दूध को दबाने और पीनें लगी जीससे कुछ देर बाद ही राखी का दर्द मजा में बदलने लगा और वो अपनी कमर को ऊपर नीचे हीलाने लगी तभी मैंने मौका देखकर अपना लंड राखी की चुत से नीकाले बीना पूरा बाहर खींच लीया और दुगनी ताकत से एक जोरदार धक्का लगा दीया जीससे मेरा लंड राखी की चुत में 7 इंच तक घुस गया जीससे राखी गूँ गूँ करके आवाज नीकालने लगी मेरा धक्का इतना तेज़ था की राखी की आँखे ही दर्द के कारण बाहर को आ गई फीर मैं थोड़ी देर के लीये रुक गया और वहीं रूककर धीरे धीरे धक्के लगाने लगा इधर अंकिता द्वारा राखी के दूध पीने और दबाने के कारण उसको मजा आने लगा तो फीर से राखी अपनी कमर को हीला हीला कर मेरा लंड अपनी चुत में लेने लगी।

राखी के धक्के इतनी तेज लग रहे थे की उसको लंड की रगड़ से मीठा मीठा दर्द के साथ साथ मजा भी आ रहा था तभी मैंने फीर से अपना पूरा लंड राखी की चुत से बाहर नीकाल कर तीसरा जोरदार धक्का लगाया जीससे मेरा लंड राखी की चुत में जड़ तक घुस गया क्योंकी मेरे दोनों गोली राखी की गाँड से टकरा रही थी फीर कुछ देर रूककर धीरे धीरे धक्के लगाये और फीर मैंने स्पीड पकड़ ली फीर मैंने राखी की जोरदार चुदाई की और फीर अपना लंड राखी की चुत से नीकाल कर जूही के मुँह में दे दीया तो जूही मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह चुसने लगी उसके बाद मैंने राखी को कुतीया बनाया और कुत्ते की तरह आकर पीछे से अपना लंड राखी की चुत में डाला और शताब्दी की स्पीड से चोदने लगा करीब 55 मिनट तक चोदने के बाद जब मैं झड़ने के करीब था तभी मैंने राखी से कहा की राखी जी मैं अब झड़ने वाला हूँ।

तो राखी बोली की हैप्पी जी आप मेरी चुत में ही झड़ जाओ और मैं कुछ देर बाद मेरे लंड ने राखी की चुत में अपनी पिचकारी छोड़ दी और इधर राखी भी कई बार झड़ चुकी थी तो थकान के कारण मैं धम्म से राखी के ऊपर ही गीर गया तो राखी ने मुझे कस के पकड़ लीया और मेरे ऊपर उसने चुम्बनो की बौछार कर दी उसके बाद हम सबने थोड़ी देर रेस्ट किया तब तक नैना ने नंगे ही मुझे बादाम का दूध और कुछ फल ड्राई फ्रूट के साथ खाने को दीये क्योंकी अभी कुछ देर बाद मुझे अंकिता और नैना की चुत की सील जो तोड़नी थी जीससे उस बादाम वाले दूध फल और ड्राई फ्रूट से मेरे लंड में उन दोनों को चोदने की शक्ती आ जाये करीब आधा घंटे बाद हम सभी पांचों लोग नंगे लेटे हुए खा पी कर आराम कर रहे थे तभी राखी ने मेरे लंड पर चपत मारी और बोली की देख लो तुम सब अब कैसा सुकडा सा हुआ आराम कर रहा है।

अंकिता और नैना खड़ा करो इसे और अपनी अपनी चुत में डालो इसे ये चुत को तो ऐसे फाड़ता है जैसे शेर जानवर को फाड़ता है इसे छोड़ो मत और टूट पड़ो लडकीयों राखी के कहते ही सभी मेरे लंड पर चारो की चारो मेरे लंड पर गीद्ध की तरह टूट पड़ी और तीनो (जूही, राखी और अंकिता) ने बारी बारी से मेरा लंड चुसा और जैसे ही अंकिता ने मेरे लंड की खाल को हटाकर सुपाड़े को नंगा करके ही अपनी जीभ से चाटा तो मेरे मुँह से सीसकारी नीकलने लगी और मेरा लंड लोहे की गरम रॉड की तरह तन गया और उसका सुपाड़ा एक बड़े मशरूम के जैसा फूल गया और टमाटर की तरह लाल हो गया तभी मैंने राखी से कहा तुम चारो दो दो भाग में बट जाओ और और एक दूसरे की चुत चाटो तब तक मैं तुम सबको बैठकर देखूँगा ओ0 के0। तभी जूही के ऊपर अंकिता चढ़ गई और नैना के ऊपर राखी चढ़ गई और चारों आपस में एक दूसरे की 69 पोजीशन में आकर एक दूसरे की चुत चाटने लगी कुछ देर बाद पता नहीं मुझे क्या सूझा मैं एकदम से नैना के दूध पर लपका और अपने एक हाथ से उसके दूध पकड़ा और दूसरे पर अपना मुँह लगा दीया इधर राखी द्वारा नैना की चुत चट रही थी।

और इधर मेरे द्वारा उसके दूध दब और चुसे जा रहे थे जीस कारण नैना बहुत जल्दी गरम हो गई और लंबी लंबी सीसकारी भरने लगी और तो राखी ने नैना की चुत को छोड़कर मेरे लंड को अपने मुँह में भर लीया और उसे लॉलीपॉप की तरह चुसने लगी तभी मैंने राखी और नैना को अलग किया और राखी से एकांत में बुलाकर कहा की राखी जी नैना की अभी चुत की सील नहीं टूटी है इसलीये इसकी चुत फटेगी तो इसे बहुत दर्द होगा तो आप इसके होंठ पर अपने होंठ रख लेना ताकी इसकी चीख न नीकल पाये तो राखी ने मुझे ओ0 के0 कहा और राखी नैना के होंठ चुसने लगी तभी मैंने मौका देखकर नैना की चुत पर आ गया।

अपना लंड नैना की चुत पर घीसने लगा और उसकी चुत के छेद पर अपना लंड लगाकर एक जोरदार धक्का मारा जीससे मेरे लंड का सुपाड़ा नैना की चुत को चीरता हुआ करीब 2 इंच तक घुस गया जीससे उसकी चुत की ऊपरी झील्ली फट गई और उससे खून की धार बह नीक्ली जीससे मेरे लंड का सुपाड़ा भी 2 इंच तक नैना की चुत से नीकले खून से लाल हो गया इधर नैना दर्द से तड़प उठी लेकिन मैंने उस पर कोई रहम न करते हुए उसकी चुत पर अपने लंड से ताबड़तोड़ 3 से 4 प्रहार जोरदार पूरी ताकत से कीए जीससे मेरा लंड उसकी चुत में पूरा घुस गया इधर नैना मेरे लंड के प्रहारों से दर्द के मारे तड़प रही थी।

लेकीन राखी के होंठो में उसके होंठ फंसे होने के कारण उसकी आवाज गूँ गूँ करके ही नीकल रही थी तभी मैंने अंकिता को बुलाया और उससे नैना के दूध पीने और दबाने को कहा तो वो एक आज्ञाकारी बच्चे की तरह उसके दूध पीने और दबाने लगी जीससे कुछ समय पश्चात वो अपनी कमर को उछाल उछाल कर मेंरे लंड को अपनी चुत में लेने लगी और साथ साथ बड़बड़ाने लगी की आह ऐसे ही आह बड़ा ही मजा आ रहा है और जोर जोर से चोदो मुझे तो उसकी बात सुनकर मुझे भी जोश आ गया और मैंने भी धीमे धीमे अपनी स्पीड बढ़ा दी और फीर शताब्दी की चाल से नैना को अलग अलग मुद्रा में 1 घंटा 5 मिनट तक चोदा और मैं उसकी चुत में ही झड़ गया उसी तरह से मैंने अंकिता को भी 40 मिनट तक चोदा और अंकिता के दूध पर झड़ गया।

उसके बाद बाथरूम में जाकर मैंने अपना लंड जो खून, चुत का रज और वीर्य से सना हुआ था को पानी से अच्छी तरह धोकर साफ किया और वापस आकर बिसटार पर लेट गया उन दोनों की सील तोड़ने के बाद मुझे अत्याधीक थकान होने के कारण मैं नंगा ही सबके साथ सो गया। सुबह के लगभग 3 बजे मेरे आँख खुली तो अंकिता मेरा लंड चुस रही थी।

तो मैं उठकर बैठ गया इधर अंकिता ने सबको जगाया तो सबने बारी बारी से मुझे लीटा कर मेरे लंड पर अपनी अपनी चुत रखकर धक्के लगाये और राखी और जूही ने अपनी अपनी गाँड भी मरवाई तो दोस्तों आप लोगों को मेरी कहानी कैसी लगी? रियलकहानी डॉट कॉम पर रोजाना नई कहानियां आती हैं। धन्यवाद।

Mummy ke saath kiya sex ,, dosto bahut si kahaniya padi hogi lekin ye sabse alag hain.

रिस्त्दारी में आई बहन की चुदाई

meri aur meri dost ki bahan ki chudai

नई नई भाभी की चुदाई

Bhabhi ki chudai aur sexy sexy bate karkar bahut maza aaya

भाई ने बाथ रूम के बहाने चोदा ।

बेटी का बुर

 

लोग अभी ये कहानियाँ पढ़ रहे हैं

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *